Kolkata Durga Puja: 300 करोड़ का दुर्गा पूजा! जानें इस बार क्या है खास

durga puja 2021 : इन दिनों पश्चिम बंगाल में दुर्गा पूजा की तैयारी चल रही है. लेकिन राजधानी कोलकाता शहर में जगह-जगह लगी एक होर्डिंग ने सभी को हैरान कर दिया है. होर्डिंग बड़े-बड़े अक्षरों में एलान कर रही है- ‘एबार 300 कोटिर पूजो!!! यानि इस बार 300 करोड़ की पूजा….इस होर्डिंग की बात करें तो ये दक्षिण कोलकाता की ‘बोड़िशा सर्वजनीन पूजा’ की ओर से लगायी गयी है. सभी जानना चाह रहे है कि क्या इस बार यह पूजा 300 करोड़ का मंडप तैयार करेगी! अगर नहीं, तो फिर यह दावा क्यों?

इस सवाल का जवाब मंडप तैयार कर रहे कलाकार कृषाणु पाल ने मीडिया को दिया. उन्होंने बताया कि समिति इस बार इतिहास को जिंदा करने का प्रयास कर रही है. बंगाल में पहली बार सार्वजनिक दुर्गापूजा बादशाह जहांगीर के दौर में हुई. सन 1605 में 12 भुइयां के राजा कंसनारायण ने छोटे स्तर पर इसकी शुरुआत की. इसके अगले साल उन्होंने बांग्लादेश के राजशाही जिले के ताहिरपुर में भव्य सार्वजनिक पूजा करायी. जिस पर नौ लाख रुपये का खर्च आया. आज उस नौ लाख का मूल्य 300 करोड़ रुपये है. इसलिए, इसे 300 करोड़ की पूजा का नाम दिया गया है. इसमें अविभाजित बंगाल की पूजा की पुरानी झलक देखी जा सकती है.

बंगाल की राजधानी कोलकाता की दुर्गा पूजा थीम पर मंडपों के निर्माण के लिए विश्व भर में प्रसिद्ध है. थीम आधारित पूजा के लिए मशहूर लेकटाउन का श्रीभूमि स्पोर्टिंग क्लब इस बार दुबई की प्रसिद्ध इमारत बुर्ज खलीफा की प्रतिकृति तैयार करने में लगा है. इसी में मां दुर्गा इस बार विराजेंगी. सूबे के मंत्री सुजीत बोस के निर्देशन में पूजा मंडप का निर्माण कार्य चल रहा है. यहां चर्चा कर दें कि श्रीभूमि क्लब केदारनाथ गुफा से लेकर फिल्म बाहुबली का भव्य सेट बना चुका है. साल 2018 के विजया सम्मेलन में समिति ने तय किया था कि वह आनेवाले दिनों में बुर्ज खलीफा को पूजा मंडप के रूप में बनायेगी. देवी की मूर्ति को स्वर्ण आभूषणों से सजाया जायेगा. ये आभूषण लोगों के लिए आकर्षण का केंद्र होंगे.