Ganesh Chaturthi 2020: कोरोना संकट के बीच 22 अगस्त को मनाया जाएगा गणेश चतुर्थी, जानें शुभ मुहूर्त

Ganesh Chaturthi 2020 Date: गणेश चतुर्थी का पर्व पूरे भारत में बड़े ही उत्साह से मनाया जाता है. लेकिन इस साल इसपर कोरोना का असर नजर आयेगा. गणेश चतुर्थी को विनायक चतुर्थी के नाम से भी जाना जाता है. महाराष्ट्र, गुजरात, उत्तर प्रदेश सहित भारत के समस्त राज्यों में गणेश चतुर्थी का पर्व बड़े ही हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता है लेकिन इस वर्ष कोरोना के बढते संक्रमण के कारण भक्तों में उत्साह थोडा कम नजर आने वाला है.

हालांकि घरों में गणेश जी को लोग स्थापित करते हैं और अनंत चतुर्दशी के दिन गणेश जी की धूमधाम से विदाई की जाती है. गणेश चतुर्थी का पर्व दो से दस दिन तक मनाया जाता है. इस पर्व को गणेश महोत्सव के रुप में भक्त मनाते हैं. यह पर्व इस वर्ष 22 अगस्त को मनाया जाएगा. पंचांग के अनुसार इस दिन शनिवार का दिन है. भगवान गणेश जी को बुद्धि, विवेक, धन-धान्य, रिद्धि-सिद्धि का कारक माना जाता है. मान्यता है कि गणेश जी को प्रसन्न करने से घर में सुख, समृद्धि और शांति आती है.

शुभ मुहूर्त: शुभ मुहूर्त की बात करें तो 22 अगस्त 2020 को शनिवार के दिन गणेश चतुर्थी शाम 7:57 बजे तक है और हस्त नक्षत्र भी शाम 7:10 बजे तक है. शास्त्रों के मुताबिक इस दिन वर्णित चौघड़िया मुहूर्त शुभता प्रदान करने वाला है. पंचांग की मानें तो 22 अगस्त को दोपहर 12 बजकर 22 बजे से शाम 4 बजकर 48 बजे तक चर, लाभ और अमृत के चौघड़िया है.

ऐस गणेश जी को घर लाएं : पंचांग के मुताबिक इस दिन के चौघड़िया को ध्यान में रखकर ही भगवान गणेश जी को घर पर स्थापित करने का काम आप करें. क्योंकि इस अवधि में स्थित और चर लग्न भी शुभ है. विशेष बात ये है कि भाद्रपद मास में शुक्ल पक्ष की द्वितीया को चंद्रमा के दर्शन करना शुभ नहीं माना गया है. गलती से इस दिन यदि चंद्रमा के दर्शन हो भी जाएं तो अगले दिन सुबह जरुतमंदों को सफेद वस्तुओं का दान करना चाहिए.



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *