Navratri 2020 : अष्टमी, नवमी और दशमी तिथि कब है ? कन्या पूजन की विधि और मुहूर्त यहां जानिए

Navratri 2020 Ashtami Navami Date: पंचांग की मानें तो 23 अक्टूबर 2020 को आश्विन मास की शुक्ल पक्ष की सप्तमी तिथि है. लेकिन मां भवानी के कुछ भक्तों में सप्तमी, अष्टमी और नवमी की तिथि को लेकर भ्रम पैदा हो गया है. हिंदू पंचांग के मुताबिक एक तिथि की अवधि 24 घंटे हो, ये जरूरी नहीं…पंचांग की मानें तो कभी कभी एक तिथि दो दिन तक रह सकती है. यही वजह है कि दो व्रत या त्योहार भी एक ही दिन पड़ जाते हैं.

नवरात्रि में भी इसी तरह का संयोग बना हुआ है. प्रचलित पंचांग के मुताबिक इस वर्ष शारदीय नवरात्रि की अष्टमी तिथि 23 अक्टूबर 2020 को सुबह 06 बजकर 57 मिनट शुरू हो रहा है, जो 24 अक्टूबर 2020 यानि अगले दिन प्रात: 06 बजकर 58 मिनट तक रहेगी. इस तरह से महाअष्टमी का व्रत 23 अक्टूबर को भक्त रखेंगे. गौर हो कि अष्टमी के दिन महागौरी की पूजा की जाती है. वहीं कुछ मतों के अनुसार अष्टमी का व्रत 24 अक्टूबर को भी भक्त रख सकते हैं. 25 अक्टूबर 2020 को दशमी की तिथि है जो शाम से शुरू होगी. इस दिन दशहरा का त्योहार भी देशवासी मनाएंगे.

पंचांग के अनुसार तिथि

अष्टमी तिथि समाप्त: 24 अक्टूबर को सुबह 06:58 तक

नवमी तिथि प्रारम्भ: 24 अक्टूबर को सुबह 06:58 मिनट पर

नवमी तिथि समाप्त: 25 अक्टूबर को सुबह 07:41 तक

दशमी तिथि प्रारम्भ: 25 अक्टूबर को सुबह 07:41 मिनट पर

दशमी तिथि समाप्त: 26 अक्टूबर को सुबह 09:00 तक

कन्या पूजन कब करें : कन्या पूजन के लिए अष्टमी और नवमी की तिथि उत्तम मानी जाती हैं. इन दोनों तिथियों में कन्या पूजन आप कर सकते हैं. कन्या पूजन में कन्याओं को मनपसंद भोजन कराने की प्रथा है और उन्हें उपहार आदि देकर भक्त विदा करते हैं.

मां दुर्गा का विसर्जन : इस साल 26 अक्टूबर 2020 को मां दुर्गा विसर्जन किया जाएगा. इस दिन का शुभ मुहूर्त प्रात: 06:29 से 08:43 के बीच है. इस मुहूर्त में विसर्जन भक्त कर सकते हैं. विसर्जन के दौरान नियमों का पालन करना अनिवार्य होता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *