Coronavirus Pandemic : कॉलेजों में सत्र एक नवंबर से, घटेंगी छुट्टियां

कोरोना संक्रमण (coronavirus in india) का असर पढ़ाई पर भी पडा है. इसी बीच बंद पड़े विश्वविद्यालयों और कॉलेजों में प्रथम वर्ष के छात्रों के लिए शैक्षणिक सत्र एक नवंबर से शुरू होगा. यूजीसी ने स्नातक और स्नातकोत्तर छात्रों के प्रथम वर्ष से संबंधित शैक्षणिक कैलेंडर को मंजूरी देने का काम पिछले दिनों किया है. एक विशेषज्ञ समिति की सिफारिशों के बाद यूजीसी ने संशोधित  गाइडलाइंस जारी की है जिसके मुताबिक प्रथम वर्ष के छात्रों के लिए नया सत्र (2020-21) एक नवंबर से शुरू होगा.

इस वर्ष शीतकालीन व अगले वर्ष ग्रीष्मकालीन अवकाश सहित अन्य छुट्टियों में कटौती होगी. सप्ताह में छह दिन का शिक्षण कार्यक्रम होगा. प्रथम वर्ष के छात्रों के लिए एडमिशन की प्रक्रिया 31 अक्तूबर तक पूरी हो जायेगी. परीक्षाएं आठ मार्च, 2021 से 26 मार्च, 2021 के बीच होंगी. गौरतलब है कि कोरोना वायरस के कारण 16 मार्च से विश्वविद्यालय बंद हैं.

पिछले महीने केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ ने ट्वीट किया कि कोरोना महामारी के मद्देनजर यूजीसी ने विशेषज्ञ समिति की रिपोर्ट को स्वीकार लिया है. यूजीसी ने कहा कि विशेष मामले के तहत 30 नवंबर तक छात्रों के प्रवेश को रद्द करने पर फीस का पूरा रिफंड होगा. वहीं, कोरोना से बचाव के लिए कैंपस में सोशल डिस्टेंसिंग समेत अन्य नियमों का पालन जरूरी होगा.

संशोधित कैलेंडर जारी

31 अक्तूबर तक एडमिशन

सप्ताह में छह दिन पढ़ाई

सर्दियों की छुट्टियों में भी कटौती