Saturday, April 13, 2024
Latest Newsबड़ी खबरराजनीति

Arpita Crying In ED Custody: ईडी की हिरासत में फूट-फूटकर रोईं अर्पिता मुखर्जी, देखें VIDEO

पश्चिम बंगाल एसएससी स्कैम में लगातार कई खुलासे हो रहे हैं. इस बीच एसएससी स्कैम के आरोपी और बंगाल सरकार के पूर्व मंत्री पार्थ चटर्जी की सहयोगी अर्पिता मुखर्जी की शुक्रवार को अचानक तबियत बिगड़ गयी और वह बेहोश हो गयी. इसका एक वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है. वीडियो में नजर आ रहा है कि जिस वक्त अर्पिता मुखर्जी को मेडिकल चेकअप के लिए ले जाया जा रहा था वह रो रही थी. जैसे ही गाड़ी से अस्पताल के अंदर ले जाया गया, वह अचानक बेहोश हो गयी और जमीन पर गिर पड़ी. इसके बाद अर्पिता का डॉक्टरों की टीम ने चेकअप किया. यहां चर्चा कर दें कि अर्पिता के घर के ईडी की छापेमारी में अब तक 49 करोड़ रुपये बरामद किए जा चुके हैं.

मामले को लेकर अंग्रेजी अखबार हिंदुस्‍तान टाइम्‍स ने खबर प्रकाशित की है जिसमें मॉडल और अभिनेत्री अर्पिता मुखर्जी से पूछताछ के संबंध में बताया गया है. अर्पिता मुखर्जी ने ईडी की पूछताछ में बताया है कि उन्हें नहीं पता था कि उनके फ्लैट के रूम में इतनी बड़ी रकम छिपायी गयी है. उल्लेखनीय है कि अर्पिता मुखर्जी के साउथ कोलकाता वाले फ्लैट से ईडी को 21 करोड़ रुपये मिले हैं जबकि एक अन्‍य फ्लैट से जांच एजेंसी ने करीब 28 करोड़ रुपये बरामद किये हैं.

कमरे में जाने की इजाजत अर्पिता मुखर्जी को नहीं थी
अंग्रेजी अखबार हिंदुस्‍तान टाइम्‍स की मानें तो मामले को लेकर एक ईडी के अधिकारी ने कहा है कि अर्पिता मुखर्जी ने बताया है, उसे उक्त कमरे में जाने की इजाजत नहीं दी गयी थी. पार्थ चटर्जी के लोग उस कमरे में आते थे और वहां पैसे रखते थे. अर्पिता ने कहा है कि सारे पैसे पार्थ चटर्जी के हैं. फ्लैट में पार्थ चटर्जी और उनके आदमी आते थे और उस कमरे को यूज करते थे. यानी वहां पैसे रखते थे. अर्पिता ने बताया कि उसे पता था कि वहां पैसे रखे जाते थे लेकिन इतने पैसों की जानकारी उन्हें नहीं थी. ऐसा इसलिए क्‍योंकि कमरे में जाने की इजाजत उन्हें नहीं थी.

फ्लैटों को ‘मिनी बैंक’ के रूप में इस्तेमाल
खबरों की मानें तो जहां पार्थ चटर्जी अब तक ईडी के सवालों का सही से जवाब नहीं दे रहे हैं. वहीं अर्पिता मुखर्जी के बारे में कहा जाता है कि वह ईडी के जांच अधिकारियों का पूरा सहयोग कर रही है. अर्पिता मुखर्जी ने दावा किया कि पार्थ चटर्जी ने उसके फ्लैटों को ‘मिनी बैंक’ के रूप में इस्तेमाल किया.