Friday, March 1, 2024
Latest Newsबड़ी खबरलाइफ स्टाइल

दिशा के आधार पर दीवारों को दें रंग, शुभ होगा सब नहीं तो…

वास्तु शास्त्र के अनुसार, घर की दीवारों पर चढ़े रंग का सकारात्मक या नकारात्मक प्रभाव घर में रहनेवाले सदस्यों पर पड़ता है. दिशा के आधार पर घर की दीवारों के रंग को प्रधानता दी जानी चाहिए, जो शुभता को बल देती है.

-हल्का नीला रंग उत्तर-पूर्व दिशा को संबोधित करता है.

-पूर्व दिशा में हल्का नीला या सफेद रंग लगाना शुभ है.

-दक्षिण-पूर्व दिशा अग्नि से संबंधित है, अत: यहां परसिल्वर, गुलाबी, नारंगी रंग सही होता है.

-पिस्ता हरा रंग उत्तर दिशा को संबोधित करता है.

-उत्तर-पश्चिम दिशा वायु से संबंधित है. इसके लिए हल्का स्लेटी, सफेद और क्रीम रंग उपयुक्त है.

-पश्चिम दिशा जल से संबंधित होती है. इस दिशा के लिए सफेद और नीला रंग उपयुक्त होता है.

-दक्षिण-पश्चिम दिशा के लिए मिट्टी के जैसा रंग या हल्का भूरा रंग उपयुक्त होता है.

-दक्षिण दिशा में पीला और लाल रंग लगवाएं. – काला, गुलाबी और लाला रंग लगाने से पहले जान लें कि ये रंग आपके लिए उपयुक्त हैं या नहीं, क्योंकि ये रंग हर किसी के लिए सही नहीं होते.

बेडरूम का रंग
-दक्षिण-पश्चिम दिशा के बेडरूम में नीला रंग उपयुक्त है.

-दक्षिण-पूर्व में बना रसोई का लाल या नारंगी रंग उपयुक्त माना गया है.

-उत्तर-पश्चिम में बना शौचालय, अतिथि कक्ष और बच्चों के कमरे का रंग सफेद हो तो उत्तम है.

-उत्तर-पूर्व या उत्तर पश्चिम में बना घर के हॉल के लिए सफेद या पीला रंग शुभ है.

-किसी योग्य ज्योतिषी से सलाह लेकर ही घर के बाहरी दीवारों पर रंग करवाएं, क्यूंकि उस घर के मालिक के हिसाब से ही बाहरी रंग होना चाहिए.