Saturday, July 20, 2024
Latest Newsधर्म-कर्मबड़ी खबर

Vivah Muhurat 22: इस साल नहीं है शादी के शुभ मुहूर्तों की कमी, देखें पूरी तिथियों की लिस्ट

वर्ष 2020 व 2021 में कुछ लग्न की कमी तो कुछ कोरोना के चलते तमाम विवाह टालने पड़े थे ऐसा ही सीन इस साल भी देखने को मिल सकता है. ऐसा इसलिए क्योंकि कोरोना संक्रमण के मामलों में लगातार बढोतरी नजर आ रही है और सरकार सख्ती बरत रही है. कई राज्यों ने कोरोना की नई गाइडलाइन जारी की है जिसका असर शादी विवाह में नजर आ सकता है.

खैर साल 2022 में विवाह की शुभ तिथियों की कमी नहीं होगी. इस वर्ष विवाह के लिए 60 से अधिक तिथियां मिल रही हैं. सनातन धर्म में अधिकांश परिवार ज्योतिष मान्यताओं के अनुसार शुभ लग्न के अनुसार ही विवाह की तिथियां तय करते हैं. फिलहाल 15 दिसंबर से खरमास शुरू हो चुका है जो 14 जनवरी तक रहेगा. 15 जनवरी से शुभ तिथियां शुरू हो जाएंगी.

बीत रहे वर्ष में विवाह लग्न की तिथियों का टोटा रहा था। जनवरी, फरवरी तथा मार्च में तो विवाह लग्न की शुभ तिथियां ही नहीं थीं। अब नए साल में विवाह की तिथियां जनवरी और फरवरी में भी खूब हैं. 10 जुलाई को देवशयनी एकादशी से चार्तुमास शुरू हो जाएंगे. इससे थमी शादियां फिर से देवउठनी एकादशी से शुरू हो जाएंगी. यह चार नवंबर हो जाएगा.

मां पीताम्बरा जनकल्याण ज्योतिष केन्द्र के ज्योतिषाचार्य दिवाकर मणि त्रिपाठी के अनुसार नए वर्ष 2022 में 15 जनवरी को मकर संक्रान्ति का पर्व मनाया जाएगा. इसके बाद 2022 का प्रथम विवाह मुहूर्त है. 22 फरवरी को गुरु अस्त होने से मुहूर्त का अभाव रहेगा तथा 14 मार्च से खरमास आरंभ होकर 14 अप्रैल को समाप्त होगा.

साल 2022 में वैवाहिक मुहूर्त
जनवरी-15, 19, 20, 21, 22, 24, 25, 27, 28, 29.
फरवरी-4, 5, 6, 9, 10, 11, 12, 16, 17, 18, 19.
अप्रैल- 15, 16, 17, 18, 19, 20, 21, 22, 23, 27.
मई-2, 3, 4,9,10, 11, 12, 13, 14, 15, 16, 17,18,19, 20, 21, 24, 25, 26.
जून-1, 5, 6, 7, 8, 9, 10, 11, 12, 13, 14,13,16,17, 21, 22, 23.
जुलाईः1, 2, 3, 4, 5, 6, 7, 8. इसके बाद 9 जुलाई से 4 नवंबर तक मुहूर्त नहीं.
नवंबरः 24, 25, 26, 27, 28.
दिसबंरः 2, 3, 4, 7, 8, 9, 13, 14, 15.

विवाह के लिए शुभ दिन
सोमवार, बुधवार, बृहस्पतिवार और शुक्रवार दिनों को अनुकूल माना जाता है, जबकि मंगलवार के दिन को विवाह समारोह के लिए अशुभ माना जाता है।

अनुकूल तिथियां
द्वितीया तिथि, तृतीया तिथि, पंचमी तिथि, सप्तमी तिथि, एकादशी तिथि और त्रयोदशी तिथि विवाह के लिए शुभ होती है।

शुभ मुहूर्त
शादी करने के लिए अभिजित मुहूर्त और गोधुली वेला को सबसे शुभ माना गया है।

शुभ लग्न
मिथुन राशि, कन्या राशि और तुला राशि।