प्लास्टिक की बोतल से पीते हैं पानी, तो हो सकते हैं नुकसान!

यदि आप भी प्लास्टिक की बोतल का इस्तेमाल करते हैं तो ये खबर आपके लिए खास है. जी हां… पिछले दिनों नीदरलैंड की यूनिवर्सिटी ऑफ एम्सटर्डम ने एक रिसर्च किया जिसमें उसने पहली बार पाया है कि 80 प्रतिशत लोगों के खून में प्लास्टिक के कण मौजूद हैं. इसकी वजह भी उनके द्वारा बतायी गयी. रिसर्च में कहा गया कि दैनिक जीवन में प्लास्टिक का अधिक इस्तेमाल इसकी मुख्य कारण है. ऐसे में गर्मियों के मौसम में पानी के लिए प्लास्टिक की बोतल का इस्तेमाल आपकी सेहत को नुकसान पहुंचा सकता है. ऐसा इसलिए क्‍योंकि, प्लास्टिक में मौजूद केमिकल्स पानी के पीएच वैल्यू को बढ़ा देते हैं, जिससे आपका स्वास्थ्य प्रभावित हो सकता है. इसलिए आपको इसका खास ख्‍याल रखना चाहिए कि प्लास्टिक की बोतल को स्वस्थ विकल्पों से बदल दें और खुद को फिट के साथ तरोताजा रखें.

चीनी मिट्टी से बनी बोतल
चीनी मिट्टी पर्यावरण व आपकी सेहत के अनुकूल होता है. गर्मियों में सिरेमिक की बनी बोतल में पानी पीने से उसकी मौलिकता बनी रहती है. साथ ही यह लंबे समय तक पानी को ठंडा रखती है. हालांकि, सिरेमिक से बने कंटेनर कांच की तुलना में ज्यादा नाजुक होते हैं. इसके ऊपर बॉटल कवर लगाकर यूज कर सकते हैं.

कांच की बोतल
कांच एक फ्रैजाइल मैटेरियल है, जिसे पुन: इस्तेमाल किया जा सकता है. कांच की बोतल में किसी भी तरल पदार्थ को रखने से उसका स्वाद बना रहता है. कांच की बोतल पानी को लंबे समय तक ठंडा रख सकती है. वहीं, कांच आसानी से रिसाइकल हो सकता है. इसलिए गर्मियों में कांच की बोतल में पानी पीना सेहत और वातावरण के लिए फायदेमंद है.

स्टेनलेस स्टील की बोतल
बाकी बोतलों की तुलना में स्टेनलेस स्टील की बोतल पानी को काफी लंबे समय तक ठंडा रखती है. साथ ही गर्म चीजें भी लंबे समय तक गर्म रह सकती हैं. इसमें पानी रखने से किसी प्रकार का स्वास्थ्य जोखिम नहीं होता. यह पूरी तरह केमिकल फ्री होते हैं.

बांस की बोतलें
बांस की बोतलें हेल्थ फ्रेंडली व वातावरण के लिए फायदेमंद होती है. यह रिन्यूएबल, ड्यूरेबल और बीपीए फ्री होती हैं. इनमें रखे पानी को पीने से यह सभी पोषक तत्व आपके शरीर में लगते हैं. साथ ही गर्मियों में यह पानी को ठंडा रखने में भी मदद करता है.बांस में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट आपके पेट, स्किन व कोशिकाओं के लिए जरूरी होते हैं.