Dhanteras and Diwali 2020 : धनतेरस और दिवाली पर करें ये उपाय, नहीं होगी धन की कमी

कार्तिक मास की त्रयोदशी को धनतेरस जबकि अमावस्या के दिन दिवाली का पर्व मनाया जाता है. मां लक्ष्मी की पूजा के लिए लोग कई दिन पूर्व से तैयारी करते हैं. इस दिन साफ-सफाई करने के बाद लोग मां लक्ष्मीकी पूजा में जुट जाते हैं. सुखसमृद्धि और धन प्राप्ति के लिए लोग कई तरह के उपाय त्योहार के दौरान करते हैं.

कुछ धनतेरस और दिवाली के दिन झाड़ू भी खरीदने का काम करते हैं. ऐसी मान्यता है कि झाड़ू माता लक्ष्मी का प्रतीक है. जिस घर में साफ-सफाई होती है वहां मां लक्ष्मी का आगमन अवश्य होता है. इस दिन घर का मुख्य द्वार भी अच्छी तरह लोग साफ करते हैं और सजाते हैं.

ज्योतिर्विदों के अनुसार इस दिन किये गये कुछ उपाय साल भर के लिए धन के आगमन का रास्ता खोलने का काम करते हैं. जैसे दिवाली और धनतेरस के दिन हल्दी और चावल पीसकर घोल बना लें. इस घोल से घर के मुख्य द्वार के दोनों तरफ ॐ लिखने का काम करें, शुभ लाभ लिखे, यही नहीं स्वस्तिक बनाएं…यह कार्य दिवाली और धनतेरस दोनों दिन करने से घर में लक्ष्मी का आगमन होता है.

यही नहीं धनतेरस के दिन खरीददारी में कलश जरूर खरीदना चहिए. यदि ना हो तो मिट्टी का घड़ा भी चलेगा. इस कलश में दीवाली के दिन पानी भरें और रसोई घर मे लाल कपड़े से ढककर स्थिर लग्न एवं शुभ मुहूर्त में रख दें. इसे भैया दूज तक रहने दें. उसके बाद किसी अच्छे स्थान पर वर्ष भर के लिए रख दें. ऐसा करने से मां लक्ष्मी की कृपा आप पर बनी रहेगी. कलश माता लक्ष्मी को बहुत प्रिय है.

यही वजह है कि धनतेरस और दिवाली के दिन घर में  शंख एवं डमरू बजाने से घर मे धन की कमी दूर होती है.


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *