Saturday, April 13, 2024
Latest Newsबड़ी खबरराजनीति

आखिर क्यों बघेल की कैबिनेट से बाहर हुए टेकाम ? छत्तीसगढ़ में सियासी उठापटक

छत्तीसगढ़ में चुनाव से पहले भूपेश बघेल सरकार के स्कूल शिक्षा मंत्री प्रेमसाय सिंह टेकाम ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है जिसकी चर्चा पूरे प्रदेश में हो रही है. उनकी जगह प्रदेश अध्यक्ष पद से हटाए गए मोहन मरकाम को दी जा रही है. वे शुक्रवार को पद एवं गोपनीयता की शपथ लेंगे जिसकी तैयारी चल रही है. प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बताया कि मरकाम शुक्रवार को मंत्री पद की शपथ लेंगे. उधर, टेकाम के मुताबिक उनसे इस्तीफा मांगा गया है और उन्होंने प्रक्रिया का पालन करने का काम किया है.

प्रेमसाय सिंह टेकाम ने मामले पर प्रतिक्रिया दी और कहा कि मंत्रिमंडल में किस को रखना और किस को नहीं रखना यह मुख्यमंत्री के विवेक पर है. मुझे कहा गया कि अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी का निर्देश है कि आपको इस्तीफा सौंपना होगा. मैने केवल प्रक्रिया का पालन किया है. उन्होंने कहा- संगठन और मंत्रिमंडल में फेरबदल चलता रहता है. यह संगठन और पार्टी की प्रक्रिया का हिस्सा है. आगामी विधानसभा चुनाव में काम करना है. पार्टी का जो निर्देश होगा उसका पालन करूंगा. जब उनसे सवाल किया गया कि पार्टी इस बार उनकी टिकट भी काट सकती है, तब उन्होंने कहा कि किसे टिकट मिलेगा, किसका कटेगा यह अलग बात है लेकिन पार्टी हित में काम करना है.

टेकाम के बारे में जानें
69 साल के टेकाम की गिनती प्रदेश के वरिष्ठ आदिवासी नेताओं में होती है. वो राज्य के सरगुजा इलाके की प्रतापपुर विधानसभा क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करते हैं. टेकाम के राजनीतिक करियर पर नजर डालें तो वे 1980 में पहली बार अविभाजित मध्यप्रदेश विधानसभा के लिए निर्वाचित हुए थे. वहीं 2018 में छठी बार विधानसभा के लिए जनता ने उन्हें चुना था. बुधवार को मोहन मरकाम की जगह सांसद दीपक बैज को छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी का अध्यक्ष बनाए जाने के बाद आज टेकाम ने इस्तीफा दे दिया.

मरकाम की बात करें तो वे 56 साल के हैं और बस्तर क्षेत्र के कोंडागांव विधानसभा क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करते हैं. वह 2013 में पहली बार तथा 2018 में दूसरी बार छत्तीसगढ़ विधानसभा के लिए निर्वाचित हुए थे. राज्य में 2018 में कांग्रेस की सरकार का गठन होने के बाद 2019 में मरकाम को प्रदेश कांग्रेस की जिम्मेदारी सौंपने का काम किया गया था.