Latest Newsअन्य खबरबड़ी खबर

म्यूचुअल फंड : गिरते बाजार में SIP करें और करोड़ों कमाएं

वर्तमान समय में जो शेयर बाजार की हालत है, इससे निवेशकों के मन में डर बैठ गया है. ऐसा इसलिए क्योंकि बाजार में पिछले करीब सात महीने से तेजी नहीं दिख रही है, लगातार इसमे गिरावट देखने को मिल रहा है. इसकी सबसे बड़ी वजह, रूस- यूक्रेन की बीच चल रही जंग है, कच्चे तेलों के दामों में इजाफा और वक़्त-बेवक़्त करोना के जानलेवा वायरस का सिर उठाना रहा है. हालांकि, निवेश के नज़रिए से देखें तो यह पैसे निवेश करने का सही वक़्त है, चाहे ब्लूचीप शेयर हो या फिर मुच्यूअल फंड.

शेयर में वे पैसा लगाने से डरते हैं आम लोग
आम निवेशकों की बात करें तो शेयर में वे पैसा लगाने से डरते हैं. क्योंकि इसमे जोखिम ज्यादा रहता है. यह बात सही भी है, क्योंकि बिना जानकारी के इसमे निवेश खतरे का ही सौदा है. वही म्यूचुअल फंड की बात करें तो, ये शेयर के मुकाबले थोड़ा सुरक्षित है. क्योंकि आपके पैसे को एक विशेषज्ञ लगाते हैं. अगर बाजार में एकदम सुरक्षित निवेश करना चाहते हैं तो SIP के जरिए निवेश एक बेहतरीन विकल्प साबित हो सकता है.

अब समझते हैं कि SIP होता क्या है?
दरअसल, म्यूचुअल फंड में SIP एक माध्यम है, जिसमें महीनें, तीन महीने और छह महीने में एक तय तारीख में पैसा जमा करना होता है. यानी आपका पैसा टुकड़ों -टुकड़ों में बाजार में निवेश होता है. इसका फायदा यह होता है कि इससे बाजार के उतार-चढ़ाव से कोई फर्क नहीं पड़ता. बाजार अगर गिरावट के दौर में है, तो आपको म्यूचुअल फंड की ज्यादा यूनिट मिलती है और अगर बाजार में तेजी है तो भी आपको यूनिट खरीदने का फायदा होता है.

चलिए अब समझते हैं कि करोड़ों रुपए का फंड बनाया और कमाए कैसे जाए?
यदि आप 5 हजार रुपये मासिक किसी फंड में डालते हैं, तो अगले बीस साल में आपके कुल 12 लाख रुपए जमा होंगे, अगर ये सालाना 12 फ़ीसदी का रिटर्न देता है तो कुल 46 लाख का रिटर्न होगा. अगर इस पैसे को निवेश करके ही छोड़ दिया जाए तो अगले 7 साल में ये करोड़ रूपये का फंड बन जायेगा. अगर आपका म्यूच्यूअल फंड 15 फ़ीसदी के हिसाब से रिटर्न दें तो 5000 रुपये का मासिक निवेश करीब 67 लाख रुपए… बीस साल में होंगे. बीस साल के बाद यदि कोई भी निवेश नहीं किया जाए और इस पैसे को यूं ही छोड़ दिया जाए तो अगले पांच साल में ये करोड़ रुपये से पार हो जायेगा.

म्यूचुअल फंड में SIP करना एक फायदे का सौदा
एक अच्छा म्यूचुअल फंड साधारण तौर पर 12 फ़ीसदी का रिटर्न्स दें ही देता है. लिहाजा, म्यूचुअल फंड में SIP करना एक फायदे का सौदा है. भारत में 40 से ज्यादा ए.एम.सी म्यूच्यूअल फंड का कारोबार करती है. जिसमे एस. बी. आई सबसे बड़ी ए. एम. सी है. इसके बाद आई. सी. आई. आई और एचडीएफसी बैंक का नंबर आता है. लगभग सभी म्यूचुअल फंड में एसआईपी की सुविधा है जिसमें कम से कम 500 रूपये से निवेश शुरू किया जा सकता है.
शिवपूजन सिंह (बाजार विशेषज्ञ और सदस्य एसोसिएशन ऑफ म्युचुअल फंड्स इन इंडिया )