Diwali 2020 Laxmi Pujan Samagri, Subh Muhurat : दिवाली की पूजन सामग्री की लिस्ट देखें, जान लें गणेश-लक्ष्मी पूजन का शुभ मुहूर्त

दिवाली (Diwali 2020 ) कार्तिक मास की अमावस्या के दिन लोग मनाते हैं. इस साल दिवाली 14 नवंबर को पड़ रहा है जिसकी तैयारी में लोग जुट चुके हैं. दिवाली पर पूरे विधि विधान से मां लक्ष्मी और भगवान गणेश की पूजा (Laxmi Pujan Samagri) की जाती है. ऐसी मान्यता है कि इस दिन मां लक्ष्मी और श्री गणेश पूजन से शांति के साथ-साथ तरक्की और समृद्धि का वरदान (Subh Muhurat) प्राप्त होता है.

दिवाली पर हर कोई माता लक्ष्मी और भगवान गणेश को प्रसन्न करने की इच्छा रखता है. इसके लिए पूरे विधि-विधान से पूजा भी की जाती है. इनकी पूजा में कोई कमी न रह जाए इसके लिए पहले से दीपावली पूजन सामग्री का इंतजाम लोग पहले से करने लगते हैं. हालांकि कई बार कुछ सामाग्री आपसे भी छूट जाती होगी जो पूजा में बैठने के वक्त याद आई होगी.

आइए हम आपको पूजन सामाग्री की लिस्ट बताते हैं जिन सामाग्रियों की जरूरत आपको पूजा के दौरान होती है.

दिवाली पूजा की सामग्री की लिस्ट (Diwali Pujan Samagri)- अपनी लिस्ट में सबसे पहले आप मां लक्ष्मी और भगवान गणेश की प्रतिमा लिख लें. उसके बाद रोली, कुमुकम, अक्षत (चावल), पान, सुपारी, नारियल, लौंग, इलायची, धूप, कपूर, अगरबत्तियां, मिट्टी, दीपक, रूई, कलावा, शहद, दही, गंगाजल, गुड़, धनिया, फल, फूल, जौ, गेहूं, दूर्वा, चंदन, सिंदूर, पंचामृत, दूध, मेवे, खील, बताशे, जनेऊ, श्वेस वस्त्र, इत्र, चौकी, कलश, कमल गट्टे की माला, शंख, आसन, थाली. चांदी का सिक्का, चंदन, बैठने के लिए आसन, हवन कुंड, हवन सामग्री, आम के पत्ते और प्रसाद को शमिल कर लें.

इस साल लक्ष्मी पूजन का शुभ मुहूर्त (Diwali Laxmi Pujan Subh Muhurat) – इस साल दिवाली 14 नवंबर को पड रहा है. इस दिन 1 बजकर 16 मिनट तक चतुर्दशी रहेगी और फिर अमावस्या शुरू हो जाएगी. यही वजह है कि 14 नवंबर को ही लक्ष्मी पूजन आप करें. जानकार शाम के 5 बजकर 40 मिनट से लेकर रात 8 बजकर 15 मिनट का मुहूर्त सबसे ऊत्तम बता रहे हैं. इस शुभ मुहूर्त के समय लक्ष्मी और गणेश की पूजा आप करें. आपको भगवान की कृपा प्राप्त होगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *