Friday, March 1, 2024
Latest Newsधर्म-कर्मबड़ी खबर

Holi 2022: ऐसे लोग नहीं देखें होलिका दहन की अग्नि, वैवाहिक जीवन पर पड़ता है असर

Holi 2022: भारत एक ऐसा देश है जो त्योहारों और संस्कृतियों से भरा हुआ है. लोगों को रंगों के त्योहार होली का बेसब्री से इंतजार रहता है जो इस सप्‍ताह आएगा. होली पर लोग एक-दूसरे को रंग-गुलाल लगाकर शुभकामनाएं देने का काम करते हैं. होली का पर्व बुराई पर अच्छाई की जीत का प्रतीक है जिसे बड़े पैमाने पर हिंदुओं द्वारा मनाया जाता है. होली के एक दिन पहले होलिका दहन मनाया जाता है जिसे लेकर कई तरह की मान्‍यताएं हैं. आइए जानते हैं इसके बारे में…

होलिका दहन नहीं करें ये काम
होलिका दहन की पूजा करना और इसमें शामिल होना अच्छा बताया जाता है. हालांकि धर्म-शास्त्रों की मानें तो कुछ खास लोगों को होलिका दहन की अग्नि नहीं देखनी चाहिए. यह नियम नवविवाहित युवतियों के लिए है. दरअसल होलिका दहन की आग को जलते हुए शरीर का प्रतीक बताया जाता है. यानी आप पुराने वर्ष के शरीर को जला रहे हैं. इस कारण नवविवाहित लड़कियों को होलिका दहन की अग्नि देखने से बचना चाहिए. ऐसी मान्‍यता है कि इससे वैवाहिक जीवन में परेशानी आने लगती है.

साल 2022 में कब मनाई जाएगी होली?
-इस साल यानी 2022 में होली 18 मार्च, 2022 को मनाई जाएगी. यह त्योहार पूरे भारत में बहुत जोश और धूमधाम से लोग मनाते हैं. होली हिंदू कैलेंडर के सबसे बड़े त्योहारों में से एक है. होली को रंगों का त्योहार भी कहा जाता है.

Holi 2022: शुभ मुहूर्त के बारे में जानें
पूर्णिमा तिथि 17 मार्च, 2022 को दोपहर 01:29 बजे शुरू हो जाएगी.
पूर्णिमा तिथि 18 मार्च, 2022 को दोपहर 12:47 बजे समाप्त हो जाएगी.

डिसक्लेमर : इस लेख में जो भी जानकारी दी गई है वो सामग्री/गणना की प्रामाणिकता या विश्वसनीयता की गारंटी नहीं है. सूचना के विभिन्न माध्यमों/ज्योतिषियों/पंचांग/प्रवचनों/धार्मिक मान्यताओं/धर्मग्रंथों से संकलित करके यह सूचना प्रकाशित की गई है और आपतक पहुंचीं है. लोकजन्‍य डॉट कॉम का उद्देश्य केवल सूचना पहुंचाना है, पाठक या उपयोगकर्ता इसे सिर्फ सूचना समझकर पढ़ें. इसके अतिरिक्त इसके किसी भी तरह से उपयोग की जिम्मेदारी स्वयं उपयोगकर्ता या पाठक की ही होगी.