Saturday, February 24, 2024
Latest Newsबड़ी खबरराजनीति

Lakhimpur Kheri Violence : अब आगे क्या होगा ! गृहराज्य मंत्री ने कहा था- बेटे के खिलाफ सबूत मिला तो इस्तीफा दे दूंगा

Lakhimpur Kheri Violence : उत्तर प्रदेश पुलिस के विशेष जांच दल यानी एसआईटी ने लखीमपुर खीरी हिंसा मामले में 3 जनवरी को केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा के बेटे आशीष समेत सभी 14 अभियुक्तों के खिलाफ अदालत में आरोप पत्र दाखिल कर दिया. मामले में जांच टीम ने 14 लोगों को आरोपी बनाने का काम किया है. इन आरोपियों में गृह राज्य मंत्री अजय मिश्र का एक रिश्तेदार भी शामिल है. मामले का मुख्य आरोपी केंद्रीय मंत्री का बेटा आशीष मिश्र बताया गया है.

अब सबके मन मे यह सवाल उठ रहा है कि क्या चार्जशीट दाखिल होने के बाद अजय मिश्र टेनी गृह राज्य मंत्री पद से इस्तीफा दे देंगे? आपको बता दें कि विपक्ष लगातार इसे मुद्दा बनाता रहा है. संसद के शीतकालीन सत्र में इसको लेकर खूब बवाल मचा था. लगातार दबाव बनने पर सरकार ने भी संसद से लेकर सड़क तक यही कहा कि यदि टेनी का बेटा दोषी पाया जाता है तो नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी. यहां तक की अजय मिश्र टेनी खुद बोल चुके हैं कि यदि उनके बेटे के खिलाफ एक भी सबूत मिलेगा तो वह इस्तीफा दे देंगे.

अभियुक्तों की संख्या बढ़कर 14
मीडिया में चल रही खबर के अनुसार वरिष्ठ अभियोजन अधिकारी एस पी यादव ने जानकारी दी है कि एसआईटी ने मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट चिंताराम की अदालत में 5,000 पन्नों का आरोप पत्र दाखिल कर दिया है. यह आरोप पत्र पिछले साल तीन अक्टूबर को गाड़ियों से कुचलकर चार किसानों की कथित रूप से हत्या किए के मामले से संबंधित है. इसमें वीरेंद्र शुक्ल नामक एक और आरोपी का नाम शामिल किया गया है. इस तरह मामले के अभियुक्तों की संख्या बढ़कर 14 हो चुकी है.

इन्हें गिरफ्तार किया जा चुका है
बताया जा रहा है कि मामले में मुख्य अभियुक्त आशीष के साथ-साथ अंकित दास, नंदन सिंह बिष्ट, सत्यम त्रिपाठी, लतीफ उर्फ काले, शेखर भारती, सुमित जायसवाल, आशीष पांडे, लवकुश राणा, शिशुपाल, उल्लास कुमार उर्फ मोहित त्रिवेदी, रिंकू राणा तथा धर्मेंद्र बंजारा नामक अभियुक्तों को गिरफ्तार किया जा चुका है. मामले में एसआईटी को 90 दिन के अंदर आरोप पत्र दाखिल करना था.

गृह राज्य मंत्री का बेटा आशीष मुख्य अभियुक्त
आपको बता दें कि पिछले साल तीन अक्टूबर को लखीमपुर जिले के तिकुनिया क्षेत्र में अजय मिश्रा के यहां आयोजित एक कार्यक्रम में शिरकत करने जा रहे उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य के दौरे के किसानों द्वारा विरोध के दौरान हुई हिंसा में चार किसानों समेत आठ लोगों की मौत हो गई थी. किसानों की हत्या के मामले में गृह राज्य मंत्री का बेटा आशीष मुख्य अभियुक्त है.