ED Raid: संजय राउत हिरासत में, अपनी कार से घर से निकले, परिवारवाले हुए इमोशनल, देखें वीडियो

प्रवर्तन निदेशालय यानी ईडी (ED) ने रविवार सुबह शिवसेना नेता संजय राउत के घर छापेमारी की. इसके बाद शाम को राउत को हिरासत में लिया गया. मामला पात्रा चॉल लैंड स्कैम का बताया जा रहा है. ईडी की ओर से जो जानकारी मीडिया ने अपने सूत्रों के हवाले से चलाया है, उसके अनुसार शिवसेना सांसद जांच एजेंसी की मदद नहीं कर रहे थे.

हिरासत में लिये जाने के बाद का वीडियो सामने आया है जिसे न्यूज एजेंसी एएनआई ने ट्वीट किया है. वीडियो में नजर आ रहा है कि संजय राउत भगवा स्कार्फ पहने हुए हैं. वीडियो में वे अपने समर्थकों की ओर हाथ उठाकर हिलाते नजर आ रहे हैं. ये समर्थन राउत के आवास के बाहर सुबह से खड़ी थी.

संजय राउत के परिवार के लोगों का व्यूज्वल भी सामने आया है जिसमें घर की बालकनी में उनकी पत्नी दिख रहीं हैं जो ये सब देखकर बहुत इमोशनल हो गईं. अपने घर से शिवसेना नेता अपनी कार में निकले. यहां चर्चा कर दें कि ईडी की टीम सुबह करीब 7 बजे संजय राउत के आवास में पहुंची थी. जून 28 को जांच एजेंसी ने उन्हें समन जारी किया था.

संजय राउत का ट्वीट
जब ईडी की छापेमारी चल रही थी तो शिवसेना सांसद और नेता संजय राउत ने अपने ट्विटर वॉल पर लिखा कि झूठी कार्रवाई, झूठे सबूत…मैं शिवसेना नहीं छोड़ूंगा..मैं मर भी जाऊं, मैं आत्मसमर्पण नहीं करूंगा…मेरा किसी घोटाले से कोई लेना-देना नहीं है. संजय राउत ने आगे कहा कि महाराष्ट्र और शिवसेना लड़ते रहेंगे.

क्‍या है मामला
यहां चर्चा कर दें कि इससे पहले, ईडी ने राउत के खिलाफ कई समन जारी किये थे. उन्हें 27 जुलाई को भी तलब किया गया था. राउत को मुंबई के एक ‘चॉल’ के पुनर्विकास और उनकी पत्नी एवं अन्य ‘सहयोगियों’ की संलिप्तता वाले संबंधित लेन-देन में कथित अनियमितताओं से जुड़े धनशोधन के एक मामले में पूछताछ के लिए ईडी ने तलब किया था. वहीं, राउत ने कुछ भी गलत करने से इनकार किया है और आरोप लगाया है कि उन्हें राजनीतिक प्रतिशोध के लिए निशाना बनाया जा रहा है.