World Menstrual Hygiene Day 2022: इसमें शर्म कैसी! भाई भी समझता है बहन की परेशानी, बाजार से लाता है पैड

World Menstrual Hygiene Day 2022: ‘विश्व मासिक धर्म स्वच्छता दिवस’ यानी ‘वर्ल्ड मेन्सट्रुअल हाइजीन डे 2022’ हर साल 28 मई को पूरी दुनिया में लोग मनाते हैं. इसका मकसद महिलाओं को माहवारी के दौरान साफ-सफाई के महत्‍व के बारे में जानकारी देना है. भारत के गांव और शहरों में रहने वाली लाखों महिलाएं आज भी इससे जुड़ी कई ज़रूरी बातों को नहीं जानतीं हैं. उन्‍हें पता भी नहीं कि उनकी थोड़ी सी लापरवाही उनको परेशानी में डाल सकतीं हैं. लापरवाही की वजह से वह हेपेटाइटिस बी, सर्वाइकल कैंसर, योनी संक्रमण जैसी गंभीर बीमारियों की चपेट में आ सकतीं हैं. इसका असर खतरनाक हो सकता है और महिलाओं को शारीरिक ही नहीं, मानसिक रूप से भी लंबी उम्र तक परेशानी उठानी पड‍़ सकती है.

भाई भी अब समझता है बहन की परेशानी
भारत के कई ऐसे गांव और शहर हैं जहां महिलाएं खुलकर मासिक धर्म पर बात करतीं हैं. वे अपनी परेशानी घर वालों के साथ साझा करतीं हैं और उनकी परेशानी घर वाले समझते हैं. चाहे भाई हो या बहन….या फिर पिता…घर में यदि कोई ना हो तो दुकान जाकर बहन के लिए पैड लाने से भाई पीछे नहीं हटता है. ऐसा इसलिए क्योंकि भाई भी चाहता है कि उसकी बहन शारीरिक रूप से बीमार ना पड़े. पहले की बात करें तो महिलाएं अपनी परेशानी घर वालों के साथ साझा नहीं करतीं थीं. वे घुट-घुटकर रह जातीं थीं. लेकिन अब जमाना बदल गया है.

क्यों खास है ये दिन
इस दिवस के मौके पर एक माहौल बनाने का प्रयास किया जाता है कि लोगों को ये बताया जा सके कि मासिक धर्म कोई अपराध नहीं, बल्कि ये एक सामान्य शारीरिक प्रक्रिया है. जिस पर घर और समाज में खुलकर बात करने की आवश्यकता है, जिससे महिलाओं और बच्चियों को गंभीर और जानलेवा बीमारियों से बचाने का काम किया जा सके.

(Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारियों पर आधारित हैं. Lokjanya.com इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)