Gold Price Today: आसानी से सोना खरीदें अपने बजट में

दिवाली का मौका है जल्दी से सोना खरीदें। (24 K Gold Price Today Rs 48,990.00 approx.)आप सोना या गहने नहीं खरीद पा रहे हैं| तो ये न्यूज़ आपके लिए है। सोना को माता लक्ष्मी का प्रतिक माना गया है।  जिस घर में महिलाएं सोना पहनती है उन पर माता लक्ष्मी की कृपा बनी रहती है।  सोना पहनने से कुंडली का गुरु भी मजबूत होता है।  

सोना का  दाम बढ़ने पर ये मध्यम वर्गीय परिवार के पहुँच से दूर होता जा रहा है ।  सोने के गहने बनवाना मुश्किल होता जा रहा है।  अगर आप सोना EMI  में भी खरीदते हैं| तो आपको उसका ब्याज देना ही पड़ता है। 

चलिए अब हम आपको बताते हैं इस महंगाई में भी खुद के लिए सोने की ज्वेलरी कैसे बनवाए।  अपनी बेटी बहुओं के ज्वेलरी के लिए फ्यूचर प्लानिंग कैसे करें?

पहले शार्ट टर्म प्लान के बारे में बताते है।  Safegold .com नाम की एक वेबसाइट है| जहां आप 24 कैरेट का सोना खरीद सकते हैं।  यह सोना पहले  आपको डिजिटल फॉर्म में खरीदना होगा। इस प्लेटफार्म पर आप  सोना मिनिमम  Rs. 100 से खरीद सकते हैं। 

यहाँ सोना आप कभी भी खरीद सकते हैं. अगर आप सप्ताह में Rs. 100 की सेविंग करते हैं. तो आप Rs. 100 का ही सोना खरीदे. अगर आप महीने में Rs 2000 तक सेविंग कर लेते हैं. तो हर महीने Rs 2000 का ही सोना खरीदें। अगर आप हर दिन Rs 200 का सोना खरीदना चाहते हैं. तो वो भी खरीद सकते हैं।

इसमें अच्छी बात यह है की अगर अपने Rs 5000 देकर 1ग्राम सोना ख़रीदा तो आपके डिजिटल अकाउंट में बैलेंस Rs 5000 नहीं होगा बल्कि  1ग्राम सोना होगा।  आप अपने इस अकाउंट में 5 सालों तक फ्री में अपना डिजिटल सोना रख सकते है।  उसके बाद कुछ नॉमिनल चार्जेज आपको pay करने पड़ते हैं। यह चार्ज आपके गोल्ड बैलेंस का 0.3% -0.4% प्रति वर्ष होगा।

सेफ गोल्ड से डिजिटल सोना खरीदने की पात्रता

आपके पास वैध पैन कार्ड होना चाहिए |

अब आपको बताते हैं की ज्वेलरी कैसे ले?

आपको जितने भी वेट की ज्वेलरी बनवानी हो. उतना गोल्ड  आपके अकाउंट में हो जाए तो Safegold.com के पार्टनर जेवेलर जैसे तनिष्क, कल्याण के आउटलेट या ऑनलाइन पोर्टल पर जा के उसे 24 कैरेट गोल्ड ( Gold Price Today ) के बदले ज्वेलरी खरीद सकते है.   इस तरह ज्वेलरी खरीदने का एक और फायदा है।  अगर आपने 10ग्राम गोल्ड आज खरीदा जब प्राइस लगभग Rs. 50,000 है. और आप गहने तब खरीदते हैं जब 10ग्राम गोल्ड की प्राइस Rs. 70,000 है. तब भी गोल्ड का प्राइस आपको एक्स्ट्रा पे नहीं करना पड़ेग। क्योंकि आपके अकाउंट में Rs. 50,000 नहीं 10 ग्राम गोल्ड है।

अगर आपको ज्वेलीरी न खरीदना हो. तो आप अपने 24 कैरेट डिजिटल गोल्ड का कॉइन के फॉर्म में डिलीवरी ले सकते हैं।  अगर आपको  गोल्ड कॉइन या ज्वेलरी नहीं चाहिए. तो आप अपने गोल्ड को बेच भी सकते हैं।  Sell करने पर गोल्ड का जो भी करंट प्राइस है वो आपको मिल जाएगा। 

आप गोल्ड कॉइन कैसे मंगवा सकते हैं ?

  • जब आपका गोल्ड 5 ग्राम या उससे अधिक हो जाए तो आप अपने पुरे या जितना भी आपको चाहिए उअसके लिए साफ़गोल्ड से अनुरोध कर सकते हैं।
  • आप सिक्कों के उपलब्ध विकल्प में से सिक्का चुन सकते हैं जिसे आप निकालना चाहते हैं ।
  • सिक्के के वजन और डिजाइन के आधार पर प्रत्येक सिक्के के अलग-अलग मेकिंग चार्ज आपको Pay करने होंगे ।
  • आपको अतिरिक्त मेकिंग चार्ज और डिलीवरी शुल्क का भुगतान करके लेनदेन की पुष्टि करनी होगी।
  • आपको एक ट्रैकिंग नंबर प्राप्त होगा जिससे आप अपने पैकेज को ट्रैक कर सकते हैं।

लॉन्ग टर्म प्लान

समय समय पर RBI  द्वारा sovereign gold bond  जारी किया जाता है।   आपका अकाउंट जिस भी बैंक में वहां जाकर आप Gold Bond खरीद सकते है।  या आप नेट बैंकिंग द्वारा अकाउंट में लॉगिन करके भी खरीद सकते हैं।  इसकी maturity पीरियड 8 साल की है।

इसके फायदे।

इसमें आपको किसी भी तरह का GST  नहीं देना पड़ता है।  आपके पैसो के लिए आपको हर साल 2.5% का  ब्याज भी मिलता है ।  डिजिटल गोल्ड रखने का बैंक आपसे कोई चार्ज नहीं लेता।  8 साल के बाद आपके परचेस किए हुए गोल्ड का जो भी Current Market Price होगा और इंट्रेस्ट दोनों मिलेगा। 

आप चाहे तो 5 साल के बाद अपने गोल्ड निकल सकते हैं। गोल्ड कहने से मतलब है आपके गोल्ड ( Gold Price Today ) का current market प्राइस और आपका ब्याज जो बैंक ने आपको दिया है।

ड्राबैक

आप इसमें बैंक से फिजिकल गोल्ड नहीं ले सकते।

अगर आप अपने लिए ज्वेलरी खरीदने का प्लान कर रहे हैं तो सेफ गोल्ड में इन्वेस्ट करे।

अगर आप भविष्य में अपने बच्चों के लिए या सेविंग्स का प्लान कर रहे हैं तो sovereign gold bond  में इन्वेस्ट करें।  

कुछ अन्य महत्वपूर्ण बातें
अगर आपको गोल्ड ज्वेलरी (Gold Price Today) पहननी है तो अलग बात है। पर आप अपने पैसों को गोल्ड ज्वेलरी के रूप में रखना चाहते हैं तो यह सही निर्णय नहीं होगा। भविष्य में गोल्ड के रेट बढ़ने पर भी आपको उस बढे हुए रेट के मुताबिक़ रिटर्न नहीं मिल पाएग।

कारण: 1. ज्वेलरी 22K, 18K या 14K का होता है। 2. कई बार ज्वेलरी में स्टोन, मोती कुंदन लगे होते है। जेवेलर्स उसके प्राइस काटते हैं। 3. इसके अलावा पर ग्राम सोने में भी ज्वैलर कुछ प्राइस काटते हैं।

अगर overall Benefit देखें तो बैंक में फिक्स डिपोसिट करने के बाद जो आपको interest के साथ return मिलेगा। उससे कहीं ज्यादा return आपको sovereign gold bond में मिलेगा।

तो देर क्यों जो सही लगे आपको उसमें जल्दी जल्दी इन्वेस्ट करें। बचत करें या अपनों के लिए ज्वेलरी खरीदें।