Diwali 2020 : दिवाली में मां लक्ष्मी की पूजा से पहले घर से हटा दें ये चीजें, नहीं तो….

14 नवंबर को देश भर में दिवाली (Diwali 2020 ) का त्योहार मनाया जाएगा. कार्तिक मास की अमावस्या को यह त्योहार लोग मनाते हैं. दिवाली के पहले लोग घरों और दुकानों (vastu shastra tips) की साफ-सफाई करने में जुट जाते हैं. ऐसी मान्यता है कि दिवाली पर घर की सफाई करने से मां लक्ष्मी की कृपा बनी रहती है. जानें मां लक्ष्मी के स्वागत के लिए कुछ कार्य जो जरूरी होते हैं. ऐसी बातें जो सफाई के वक्त आपको याद रखनी चाहिए….

-टूटा हुआ दर्पण: वास्त्रशास्त्र की मानें तो, घर में निगेटिव ऊर्जा रहती है और परिवार के सदस्यों को मानसिक तनाव का सामना करना पड़ता है. इसलिए सफाई के वक्त इसे घर से हटा दें.

-टूटा फर्नीचर: वास्तुशास्त्र के मुताबिक, घर या दुकान में टूटा फर्नीचर रखना अशुभ माना जाता है. कहते हैं कि घर का फर्नीचर टूटा-फूटा होने से निगेटिव एनर्जी का वास होता है. इसलिए इसे हटा देना उचित है.

-टूटी मूर्तियां: घर में देवी-देवता की टूटी मूर्ति या प्रतिमा की पूजा नहीं करनी चाहिए. मान्यता है कि दिवाली से पहले ऐसी तस्वीरों या मूर्तियों को किसी पवित्र स्थान में लेकर मिट्टी में दबा देना चाहिए या जल में प्रवाहित कर देना चाहिए.

-टूटे बर्तन : वास्तु शास्त्र के मुताबिक, टूटे बर्तनों का इस्तेमाल अशुभ होता है. कहा जाता हैं कि टूटे बर्तनों के इस्तेमाल करने से धन-संपदा में बरकत नहीं होती है. इसलिए दिवाली की सफाई में घर के टूटे बर्तनों को बाहर कर दें.

-पुराने चप्पल-जूते: कहा जाता है कि घर में पड़े पुराने जूते और चप्पलों से कारण घर में निगेटिव एनर्जी आने लगती है. इसलिए घर में पड़े पुराने जूते और चप्पलों को बाहर निकाल दें.

-बंद घड़ी: कहा जाता है कि घर में खराब या बंद घड़ी नहीं रखनी चाहिए. यदि आप घड़ी को रखना चाहते हैं तो पहले उसकी रिपेयरिंग करा लें. वास्तु शास्त्र के अनुसार, बंद घड़ी उन्नति में बाधा उत्पन्न करती है.

-खराब इलेक्ट्रॉनिक सामान: कई बार घरों में खराब इलेक्ट्रॉनिक सामान रखा रह जाता है. वास्तु शास्त्र की मानें तो, ऐसे में घरों में उन्नति में बाधा आने के साथ निगेटिव एनर्जी का वास करने लगती है. इसलिए सफाई में खराब इलेक्ट्रॉनिक सामान बाहर निकाल दें.

( उरोक्त बातें के बारे में हम यह दावा नहीं करते कि ये पूर्णतया सत्य एवं सटीक हैं. इन्हें अपनाने से पहले संबंधित क्षेत्र के विशेषज्ञ की सलाह लेना ना भूलें) 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *