Saturday, April 13, 2024
Latest Newsएंटरटेनमेंटबड़ी खबर

‘महाभारत के भीम’ प्रवीण कुमार पाई-पाई को मोहताज

यदि आपने दूरदर्शन (Doordarshan) पर करीब 3 दशक पहले आने वाले ‘महाभारत (Mahabharata)’ धारावाहिक को देखा होगा तो उसमें एक किरदार आपको बखूबी याद होगा. जी हां…हम यहां बात कर रहे हैं ‘गदाधारी भीम’ यानी भीम का किरदार निभाने वाले प्रवीण कुमार सोबती (Praveen Kumar Sobti) की.

दरअसल अभी जो खबर आ रही है उसके अनुसार प्रवीण कुमार सोबती की माली हालत ठीक नहीं है. उनकी माली हालत इतनी खराब हो गई है कि उन्होंने सरकार से अब मदद की गुहार लगाई है. मीडिया रिपोर्ट की मानें तो जिंदगी के 74 साल बीताने के बाद वर्तमान समय में प्रवीन पाई पाई को तरस रहे हैं. किसी तरह अभी तक वह अपना गुजर-बसर कर रहे थे, लेकिन अब जीवन काटना मुश्किल दौर से गुजर रहा है और उन्होंने पंजाब सरकार से जीवन यापन के लिए पेंशन की गुहार लगाई है.

पंजाब सरकार से शिकायत : मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो, एक्टर प्रवीण कुमार ने अपनी शिकायत में कहा कि पंजाब में बनने वाली सभी सरकारों से मेरी शिकायत है, जितने भी खिलाड़ी एशियन गेम्स खेलते हैं या मेडल जीत कर लाते हैं, उन्हें पेंशन दी जाती है. लेकिन इस अधिकार से मुझे वंचित रखा गया.

74 साल में लगा दी पेंशन की गुहार : एक्टर प्रवीण कुमार की बात करें तो वे 6 फुट से भी ज्यादा लंबे है. उन्होंने अपने कद काठी के साथ अपनी एक्टिंग से लोगों के दिलों में खास जगह बनाई. वे अपनी जिंदगी के 74 बसंत देख चुके हैं. आपको याद हो तो जो पिछले साल लॉकडाउन में दूरदर्शन पर फिर प्रसारित की गई.

खेलों में भी नाम कमाया : एक्टर प्रवीण कुमार दो बार ओलंपिक, फिर एशियन, कॉमनवेल्थ में कई गोल्ड, सिल्वर मेडल अपने नाम कर चुके हैं. प्रवीण 1967 में खेल के सर्वोच्च पुरुस्कार ‘अर्जुन अवॉर्ड’ से नवाजे गए थे. वर्तमान समय में खेल से फिल्मी ग्लैमर का कामयाब सफर तय कर चुके ‘भीम’ अब आर्थिक संकट से जूझ रहे हैं. यहां चर्चा कर दें कि प्रवीण कुमार सोबती पंजाब के अमृतसर के पास एक सरहली नामक गांव के रहने वाले हैं.