बंगाल चुनाव: भाजपा और टीएमसी की जंग के बीच पति-पत्नी में आई दरार,तलाक तक पहुंची बात, जानें पूरा मामला

विधानसभा चुनाव के पहले पश्चिम बंगाल की राजनीति में हलचल मची हुई है. भाजपा सांसद व भाजयुमो के प्रदेश अध्यक्ष सौमित्र खान की पत्नी सुजाता मंडल खान ने तृणमूल का दामन थाम लिया है. इस खबर के बाद, आंसुओं के बीच सौमित्र खान की भी प्रतिक्रिया सामने आई है. उन्होंने कहा कि सुजाता उनके लिए अब मर चुकी है…वह उन्हें तलाक का नोटिस भेजेंगे.

खबरों की मानें तो उन्होंने नोटिस भेज भी दिया है. भाजपा सांसद सौमित्र खान ने भेजे नोटिस में कहा है कि मैं उनसे अनुरोध करुंगा कि वह ‘खान’ उपनाम का इस्तेमाल करना बंद कर दें.

इस पारिवारिक भूचाल की शुरुआत सोमवार की सुबह हुई, जब सुजाता तृणमूल भवन पहुंचीं और खुद के तृणमूल में शामिल होने की घोषणा की. उनका कहा कि वह भाजपा में तब शामिल हुई थीं, जब उसके केवल दो सांसद बंगाल से थे. वह उसके दुर्दिन में शामिल हुई थीं, लेकिन उन्हें वहां सम्मान नहीं मिला. भाजपा योग्य लोगों को जगह नहीं देती. तृणमूल में आकर वह धन्य और रोमांचित महसूस कर रही हैं. भाजपा के पास मुख्यमंत्री का कोई चेहरा नहीं है, लेकिन तृणमूल के पास है और वह हैं ममता बनर्जी. इधर, पत्नी के तृणमूल में शामिल होने के कुछ देर बाद ही सौमित्र सामने आये व पत्रकारों के सामने रो पड़े. आंसुओं के बीच उन्होंने कहा कि सुजाता के साथ उनके सभी रिश्ते खत्म हो गये हैं.

सुजाता ने भाजपा पर लगाए आरोप: सुजाता मंडल ने टीएमसी ज्वाइन करने के बाद भजपा पर कई आरोप लगाए. उन्होंने कहा था कि भाजपा राज्य में सत्ता के लालची लोगों को अपनी पार्टी में शामिल करने का काम कर रही है. भाजपा में किसी का सम्मान नहीं है. पार्टी अवसरवादियों और दागियों को जगह देने में जुटी हुई है. आगे सुजाता मंडल ने कहा कि पार्टी बदलने में पति-पत्नी का रिश्ता कहां से आ गया. मैं यहां साफ करना चाहती हूं कि मैंने सौमित्र का बुरा कभी नहीं चाहा, वो अपनी जिंदगी में खुश रहें… तरक्की करें….मेरी यही कामना है…वो मुझे पत्नी मानें या ना मानें मैं अब भी उन्हें अपना पति मानती हूं, उनके नाम का सिंदूर मेरे माथे पर है….

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *