Weather Forecast Updates : दिवाली से पहले ही सताएगी कड़ाके की ठंड, जानें अपने राज्य के मौसम का हाल

Weather Forecast Updates : हिमाचल प्रदेश व उत्तराखंड के पर्वतीय इलाकों में भारी बर्फबारी और प्रशांत महासागर से ‘ला लीना’ प्रभाव के कारण उत्तर भारत में ठंड की दस्तक हो चुकी है. मौसम विभाग की मानें तो दिवाली से पहले ही उत्तर भारत में शीतलहर का असर दिखने लगेगा. नवंबर महीने की शुरुआत से ही दिल्ली, उत्तराखंड, हिमाचल, उत्तर प्रदेश समेत उत्तर भारत में ठंड बढ़ने लगी है.

स्काईमेट वेदर के अनुसार पंजाब और हरियाणा समेत दिल्ली-एनसीआर में उत्तर-पश्चिमी दिशा से ठंडी और शुष्क हवाएं चलेंगी. जिससे आने वाले दिनों में न्यूनतम तापमान सामान्य से 5 डिग्री कम 10-11 डिग्री के आसपास ही बना रहेगा. राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में मंगलवार को न्यूनतम तापमान 10 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, हालांकि बुधवार को तापमान ने लोगों को राहत दी.

मौसम विभाग का कहना है कि दिल्ली सहित कुछ इलाकों में अगर तापमान में इसी तरह कमी आती रही, तो शीतलहर की घोषणा कर दी जायेगी. न्यूनतम तापमान में गिरावट आ रही है और अगले चार से पांच दिन तक ऐसे हालात रह सकते हैं. अगले दो दिनों तक न्यूनतम तापमान सामान्य से 4.5 डिग्री सेल्सियस कम नजर आ सकता है.

मौसम विभाग का आंकलन है कि इस बार का नवंबर महीना पिछले 4-5 साल में सबसे ठंडा महीना साबित होगा. आपको बता दें कि राष्ट्रीय राजधानी में इस साल अक्तूबर का महीना पिछले 58 साल में सबसे अधिक ठंडा था.

इस बार पड़ेगी कड़ाके की ठंड: मौसम विभाग के मुताबिक, इस बार ‘ला नीना’ के कारण कड़ाके की ठंड पड़ेगी. साथ ही इस बार जाड़े का मौसम लंबा चलने की भी संभावना है. मौसम विभाग के मुताबिक, जाड़े का मौसम करीब 15 दिन ज्यादा रहेगा और इसमे भी करीब दिसंबर के दूसरे हफ्ते से पूरे जनवरी माह तक, करीब डेढ़ महीने शीतलहर के कारण कड़ाके की ठंड पड़ने का अनुमान है. विभाग के मुताबिक उत्तर प्रदेश, मध्यप्रदेश, दिल्ली समेत उत्तरी भारत के कई राज्यों में नवंबर के पहले हफ्ते से ठंड अपना असर दिखाने लगी है.

झारखंड और बिहार में भी गिरेगा तापमान : पूर्वी भारत में इस हफ्ते किसी भी मौसमी हलचल की आशंका नहीं है. इस हफ्ते के दौरान बिहार और झारखंड के तापमान में 2-3 डिग्री की गिरावट आनेवाली है. दूसरी ओर उत्तर-पूर्वी भागों में हल्की से मध्यम बारिश होगी, जबकि मध्य से आखिर तक मौसम साफ और शुष्क रहने की संभावना है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *